Thursday, November 12, 2009

पत्नी पीड़ित चिट्ठाकार क्षमा करें - कृपया हम से न पूछें कि पत्नी का क्या करें

---- eksacchai { AAWAZ }

http://eksacchai.blogspot.com

" भारत देश की लिलामी चालू है ,क्या आपको बोली लगानी है

____ भाई आज कल ज़रा कड़की चल रही है




posted by Suman at TheNetPress.Com
लो क सं घ र्ष !: पत्नी पीड़ित चिट्ठाकार क्षमा करें

___कृपया हम से पूछें कि पत्नी का क्या करें




posted by S B Tamare at कबीरा खडा़ बाज़ार में
shashibhushantamare-jyotish bole: ज्योतिष में ''आफ्टर मैथ'' का महत्त्व

___समझ भी जाओगे तो क्या तीर मार लोगे ?




posted by बी एस पाबला at प्रिंट मीडिया पर ब्लॉगचर्चा
ब्लॉग पर हो रहे बवाल पर अमर उजाला ने दिया समाचार

___और साथ ही शाबासी कि लगे रहो मुन्ना भाई !




posted by Kusum Thakur at Kusum's Journey -
मेरा एक १०० वाँ पोस्ट

___जो पढ़े बिना बधाई देगा उसे मैं कभी क्षमा नहीं करुँगी






posted by ajay saxena at अजय-दृष्टि -
मधुमेय बनाम मधु-पेय दिवस..!

___कृपया अपना पैग स्वयं बनाएं




___कि चाइना हमारे लिए खतरनाक होता जा रहा है




  • posted by CARTOON TIMES by-manoj sharma
  • Cartoonist at CARTOON TIMES
देखा है कहीं ऐसा विकाश

___कि आदमी ही आदमी की बिछा रहा है लाश





posted by Dr kavita 'kiran' (poetess) at
डॉ.कविता'किरण'(कवयित्री) -
जिंदगी को जुबान दे देंगे

___बाद में मुकर जायेंगे





posted by जसबीर कालरवि - हिन्दी राइटर्स गिल्ड at
जसबीर कालरवि - हिन्दी राइटर्स गिल्ड -
पत्थरों के इन घरों में

___बहुत कोमल लोग रहते हैं



गिरीश बिल्लोरे 'मुकुल
तनेज़ा जी क्या करूं इस नोटिस का ?

___और लोग तो बत्ती बना लिया करते हैं




विकास
अपना गांव अच्छा नहीं लगा.

___साला कोई उधार ही नहीं देता




शबनम खान
वक़्त नहीं है....

___वरना सब के ब्लॉग पर टिप्पणी कर देते




vinay
मुझे तो लगने लगा है, ऐसे लेख लिखूं जिसमें कोई भी विवाद ही ना हो |

___अर्थात ऐसी कचौरी बनाऊं जिसमे कोई स्वाद ही हो




हर्षवर्धन
कहिए कि इसी वजह से गरीब रथ इतनी बची हुई है

___वरना कब की कबाड़ में बिक गई होती ...



साधो यह हिजडों का गाँव-

___यहाँ दीवारों पर ये करना मना नहीं है




6 comments:

Udan Tashtari said...

बेहतरीन/सटीक!!

Babli said...

बहुत बढ़िया लगा !

Akbar Khan +919416557786 said...

वाह, क्या बात है !!!
इतनी चुटकियाँ कैसे बजा लेते हो, सर ???

SACCHAI said...

" aapka bahut bahut aabhari hu ki aapne muje aapke blog per sthan diya mai aaj apane aap ko sabse jyada khush kismat samjata hu sir ."

" bahut hi badhiya chutkule maza aagaya "

----- eksacchai { AAWAZ }

http://eksacchai.blogspot.com

Suman said...

nice

Suman said...

nice